नागरिकों की सुरक्षा होगी पुलिस की प्राथमिकता: पुलिस कमिश्नर

फरीदाबाद:-  पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह ने आज अपने कार्यालय सेक्टर 21c में सभी डीसीपी, एसीपी के साथ मीटिंग कर बीट सिस्टम, कानून व्यवस्था, पेंडिंग केस के बारे में आवश्यक कार्यवाही हेतु दिशा निर्देश दिए हैं।

मीटिंग के दौरान पुलिस कमिश्नर ने कहा कि बीट सिस्टम का कार्य सुचारू रूप से आगे बढ़ाया जाए। रोजाना वह खुद किसी न किसी बीट का दौरा करेंगे।

इस दौरान उन्होंनेे तीनों जॉन के डीसीपी को भी हिदायत दी है कि वह भी अपने अपने एरिया का दौरा करके बीट इंचार्ज और सह-पुलिसकर्मियों के साथ बातचीत करें तथा उन्हें आने वाली समस्याओं के बारे में सुनवाई करें ताकि पुलिस कर्मियों का मनोबल बढ़े और वह और अच्छे से अपने बीट एरिया में कार्य कर सके।

पुलिस कमिश्नर ने आगे बताया कि एसीपी अपने एरिया में आने वाली प्रत्येक बीट के लिए जिम्मेदार होंगे और अपने बीट के पुलिसकर्मियों को समय-समय पर आवश्यक निर्देश देते रहेंगे।

पुलिस कमिश्नर के निर्देशों के अनुसार सभी बीट इंचार्ज और पुलिसकर्मी साइकिल और पैदल गस्त करेंगे और अपने बीट में रहने वाले लोगों की समस्याओं का समाधान करेंगे।

गस्त करने के अलावा प्रत्येक बीट पुलिस ऑफिसर अपने अपने एरिया में रहने वाले लोगों का व्हाट्सएप ग्रुप बनाएगा और व्हाट्सएप ग्रुप के माध्यम से अपने एरिया में क्या चल रहा है उसकी जानकारी हासिल करेगा।

पुलिस कमिश्नर ने नागरिकों की सुरक्षा के बारे में बताते हुए कहा कि नागरिकों को सुरक्षा देना फरीदाबाद पुलिस की प्राथमिकता होगी, जिसके चलते वह गस्त और पेट्रोलिंग को बढ़ावा दे रहे हैं।

पुलिस कमिश्नर ने बताया कि फरीदाबाद जिले में क्राइम पर कंट्रोल करने और कानून व्यवस्था को और सुदृढ़ बनाने के लिए फरीदाबाद पुलिस को 51 सब इंस्पेक्टर मिले हैं जोकि अभी ट्रेनिंग पास आउट होकर आए हैं।

उपरोक्त पुलिसकर्मियों को फील्ड में तैनात किया जाएगा ताकि उनको बीट सिस्टम के बारे में भी जानकारी हो सकें। ऐसा करने से भविष्य में उन्हें तफ्तीश करने में मदद करेगी।

मीटिंग के दौरान सभी एसएचओ को निर्देश दिए गए हैं कि शिकायतकर्ता से अच्छे से बात की जाए और उनकी समस्याओं को सुना जाए और उनकी समस्याओं का जल्द से जल्द निपटारा किया जाए जिससे लोगों में पुलिस के प्रति विश्वास बढ़े।

पुलिस कमिश्नर ने सभी एसएचओ को निर्देश दिए हैं कि जघन्य अपराध के मुकदमों में देरी ना करें, समय पर कार्यवाही करे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

× How can I help you?